महाराष्ट्र में फिर से लॉकडाउन कि स्थिति। स्वास्थ्य मंत्री टोपे का बड़ा बयान। टोपे ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामले चिंता का विषय।

महाराष्ट्र में फिर से लॉकडाउन कि स्थिति। स्वास्थ्य मंत्री टोपे का बड़ा बयान। टोपे ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामले चिंता का विषय।

संवाददाता शोएब म्यानुंर मुंबई

 

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमीक्रोन से पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है। देश में भी ओमीक्रोन तेजी से पांव पसार रहा है। ओमीक्रोन के मामले सबसे अधिक महाराष्ट्र और दिल्ली में सामने आए हैं।

 

कोरोना वायरस की पहली और दूसरी लहर में सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में ओमीक्रोन तेजी से फैल रहा है। ऐसे में राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को टास्क फोर्स के साथ मीटिंग भी की थी। जिस पर राज्य के हालात के बारे में चर्चा की गई।

 

इस बीच राज्य के स्वास्थ्य मंत्री से यह पूछा गया कि क्या महाराष्ट्र में फिर से लॉकडाउन लग सकता है? इस पर उनका कहना था कि लॉकडाउन लगाने का फैसला राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे करेंगे। हालांकि उन्होंने यह संकेत जरूर दिए हैं कि सरकार सुरक्षा के लिहाज से कोई चूक बर्दाश्त नहीं करेगी। टोपे ने कहा कि कोरोना के मामले जिस तरह से बढ़ रहे है वो वाकई चिंता का विषय बना हुआ है।

 

इस मामले में राज्य के सीएम बहुत जल्‍द फैसला ले सकते हैं। टोपे ने कहा कि पॉजिटिव रेट में भी काफी बढ़ोतरी हुई है। राज्य में कोविड के 4000 से ज्यादा नए केस सामने आए जो चिंता बढ़ाने वाला है। इस वक्त पॉजिटिविटी रेट 8.48 के करीब है।

 

राजेश टोपे ने कहा कि मैं सभी से अपील करता हूं कि लोग भीड़भाड़ से बचें और संक्रमण से बचने के लिए कोविड गाइडलाइंस का पालन करें। उन्होंने कहा कि फिलहाल राज्य मे स्कूल बंद नहीं होंगे। बच्चों को वैक्सिनेशन सेंटर पर ले जाकर वैक्सीनेशन कराना होगा। हम स्कूल कॉलेज के बच्चों को बैच में वैक्सीनेशन करेंगे। जैसे अन्य बीमारियों में डॉक्टर के पास जाकर वैक्सीन लेनी होती है उसी तरह की व्यवस्था की जाएगी।

 

बता दें कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में कोरोना वायरस के 3,671 नए मामले सामने आए हैं। एक दिन में 371 मरीज ठीक हुए हैं और इस दौरान कोरोना से किसी की मौत नहीं हुई है। शहर में कुल कोविड के कुल मामले बढ़कर 7,79,479 पहुंच गए हैं। अब तक कुल 7,49,159 मरीज ठीक हो चुके हैं और अब तक कुल 16,375 मरीजों की मौत हो चुकी है। मुंबई में एक्टिव मामलों की संख्या 11,360 है।