अलंकित ने असंगठित श्रमिकों, चाय बागान के श्रमिकों और उनके परिवार के सदस्यों का श्रमिक कल्याण विभाग, असम सरकार के लिए आधार नामांकन शुरु किया

पूरे प्रदेश मे लगभग 1000 आधार नामांकन केन्द्र खोलेगा अलंकित

19 अप्रैल, 2021, गुवाहाटी/नयी दिल्ली:अलंकित लिमिटेड ने असंगठित श्रमिकों, चाय बागान के श्रमिकों और उनके परिवार के सदस्यों का श्रमिक कल्याण विभाग, असम सरकार के लिए आधार नामांकन शुरु कर दिया है। अलंकित लगभग 1000 आधार नामांकन केन्द्र खोलेगा ताकि पूरे असम राज्य में अधिकतम आबादी तक पहुँचा जा सके। नामांकन की प्रक्रिया आगे चलकर श्रमिकों को सरकार की विभिन्न कल्याणकारी पहल और योजनाओं का लाभार्थी बनने में सहायक होगी।

अलंकित इस परियोजना में असम सरकार का मुख्य सहयोगी है और वह नियमित नामांकन और अपडेट के आधार पर डाटा की गुणवत्ता की जाँच सुनिश्चित करेगा। परियोजना के तहत, अलंकित ने यूआईडीएआई सिस्टम के साथ सुरक्षित डाटा कनेक्टिविटी रखने वाले विशेष डाटा गुणवत्ता जाँच केन्द्र स्थापित किए हैं और जाँच के लिए अपने कर्मचारियों को नियुक्त किया है। डाटा गुणवत्ता जाँच में गुणवत्ता की जाँच करने वाले ऑपरेटरों द्वारा लिए गए निर्णयों का यूआईडीएआई के निर्देशों के आधार पर सत्यापन भी शामिल है। सत्यापन और डाटा के गुणवत्ता की जाँच में यूआईडीआई के मौज़ूदा निर्देशों के अनुसार पता जैसे कि जनसांख्यिकी, फ़ोटोग्राफ़ और ‘पहचान प्रमाण पत्र’, ‘निवास प्रमाण पत्र’, ‘जन्म प्रमाण पत्र’ और ‘सम्बन्ध प्रमाण पत्र’ जैसे दस्तावेज़ शामिल होंगे।

अलंकित लिमिटेड के प्रबन्ध निदेशक श्री अंकित अग्रवाल के अनुसार, “हम आधार नामांकन प्रक्रिया के लिए श्रमिक कल्याण विभाग, असम सरकार का सहयोगी बनने पर खुश हैं। यह परियोजना आम नागरिकों के कल्याण के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न ई-गवर्नेंस योजनाओं का सहयोग करने की हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है। हमें गर्व है कि हम सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को सुदूर क्षेत्रों से जोड़ने के काम में सबसे आगे हैं। हमें आशा है कि हम अपने विभिन्न सेवा केन्द्रों के माध्यम से अधिकतम लोगों तक पहुँचेंगे और सुनिश्चित करेंगे कि अधिकतम लोगों को आधार नामांकन प्रक्रिया से लाभ मिले। इसके बाद, हम डाटा की सटीकता और गुणवत्ता की जाँच करेंगे ताकि विसंगतियाँ कम से कम हों और नागरिक आधार से जुड़ी विभिन्न सरकारी योजनाओं का बिना किसी सीमा के लाभ प्राप्त कर सकें।”

असम के उपश्रमायुक्त इशानु शाह के अनुसार,“आधार नामांकन यह सुनिश्चित करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है कि प्रदेश के नागरिक विभिन्न सरकारी योजनाओं का ठीक से लाभ ले सकें। हमारे विभाग के दृष्टिकोण से, आधार नामांकन से राज्य के बहुत से असंगठित श्रमिकों को प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन स्कीम और व्यापारियों के लिए एनपीएस जैसी योजनाओं में नामांकन में सहायता मिलेगी। आधार नामांकन प्रवासी श्रमिकों के लिए भी लाभदायक होगा जो असंगठित श्रमिकों की श्रेणी में आते हैं। साथ ही, मोटर परिवहन श्रमिकों, घरेलु कामगारों और छोटे चाय बागानों में लगे श्रमिकों के कल्याण के लिए, कल्याणकारी योजनाओं को लागू करने के लिए असम के श्रमायुक्त कार्यालय की ओर से पहल ली गयी है, जिसके लिए आधार अनिवार्य है। श्रम विभाग ने प्रदेश में आधार नामांकन के लिए अलंकित लिमिटेड के साथ साझेदारी की है। अलंकित विभिन्न प्रकार की ‘सरकार से नागरिक’ सेवाओं को करने के विशेषज्ञ हैं, और हम इस परियोजना को सफ़ल बनाने में उनके सतत सहयोग के आकांक्षी हैं।”

अलंकित लिमिटेड के बारे में

अलंकित लिमिटेड, अलंकित की एक प्रमुख कम्पनी है और भारत में प्रमुख ई-गवर्नेंस सेवा प्रदाता है। अलंकित 14 समूह कम्पनियों का एक समूह है, जो ई-गवर्नेंस, वित्तीय सेवाओं, बीमा और हेल्थ केयर वर्टिकल जैसे विभिन्न व्यवसायों के संचालन में लगी हैं। अलंकित देश के दोनों प्रमुख एक्सचेंज़; नेशनल स्टॉक एक्सचेंज़ ऑफ इण्डिया लिमिटेड (एनएसई) और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज़ लिमिटेड (बीएसई) पर सूचीबद्ध है। इसका ग्राहक आधार 2.5 करोड़ से ज़्यादा है और हर वर्ष बढ़ता जा रहा है। अलंकित लिमिटेड की प्रमुख सेवाओं में जीएसपी (जीएसटी सुविधा प्रदाता), आधार सेवाएँ, व्यवसाय पत्राचार (बीसी), आईडी कार्ड प्रिंटरों के राष्ट्रीय वितरक, पीओपी–राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (एनपीएस), राष्ट्रीय बीमा के लिए अधिकृत व्यक्ति (एपी) –पॉलिसी रिपोजिटरी (एनआईआर), राष्ट्रीय दक्षता पंजीकरण (एनएसआर) के लिए सेवा केन्द्र (पीओएस), अटल पेंशन योजना (एपीवाई) के सुविधा प्रदाता, मानव श्रम सेवाएँ, फास्टैग सेवाएँ, आयुष्मान भारत योजना कार्ड सेवाएँ, एनएचएससी आदि शामिल हैं। अलंकित सरकार और देश के नागरिकों के बीच अंतिम बिन्दु तक कार्य करता है।